Dear MySarkariResult Users Always Type ".in" after MySarkariResult : - "MySarkariResult.in"

UP Police Constable Exam 2018: परीक्षा रद्द होने की खबर के बाद पुलिस भर्ती बोर्ड ने जारी किया बयान

UP Police Constable Exam 2018: उत्तर प्रदेश में कांस्टेबल भर्ती की परीक्षा 18 और 19 जून 2018 को आयोजित की गई थी. इस परीक्षा के जरिए 41 हजार योग्य उम्मीदवारों को पुलिस कांस्टेबल की नौकरी दी जाएगी. उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती और प्रोमोशन बोर्ड (UPPRPB) द्वारा 860 परीक्षा केंद्रों एग्जाम कंडक्ट कराया गया.
upprpb has issue notification to inform examination will not cancel due to rumour of paper repeat
परीक्षा के दौरान पेपर लीक की खबरें भी आयी और यूपी पुलिस ने इस पर त्वरित करवाई कर कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया. इसके अलावा एक ही क्वेश्चन दोनों सीटिंग में बांटने का मामला भी आया और ख़बरें आ रही थी की कहीं परीक्षा रद्द न हो जाए. यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड ने नोटिफिकेशन जारी कर कहा है की परीक्षा कैंसिल नहीं की जाएगी इसलिए उम्मीदवार चिंतित नहीं हों.
          up police notification
उत्तर प्रदेश में 18 और 19 जून को हुई पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में दोनों सीटिंग में कथित तौर पर एक जैसे प्रश्नपत्र बांटे गए उनमें अंतर सिर्फ इतना था कि 150 सवालों के क्रम (Serial Number) बदले हुए थे. ऐसा ही दो मामला कथित तौर पर यूपी के एटा और अलीगढ़ जिलों में सामने आया है. पेपर रिपीट होने से पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में बैठने वाले लाखों अथ्यर्थियों का चिंतित होना जायज है कि कहीं पेपर कैंसिल न हो जाए.
पुलिस कांस्टेबल की इस भर्ती परीक्षा में एटा स्थित एसके कॉलेज और अलीगढ़ के नौरंगीलाल इंटर कॉलेज के परीक्षा केंद्रों में इस तरह के मामले सामने आए हैं. लेकिन वरिष्ठ पुलिस अधिकारीयों ने इसे ख़ारिज कर दिया और ऐसी किसी भी गड़बड़ी से इंकार किया है. इसके बाद भर्ती बोर्ड ने ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी कर जानकारी दी है कि परीक्षा रद्द होने की सूचना गलत है.
खुलासे के बाद मचा हड़कंप, भर्ती प्रक्रिया पर खड़े हुए सवाल
पुलिस भर्ती परीक्षा में धांधली : प्रश्नपत्र में पूछे गये सिर्फ 62 सवाल 88 प्रश्न गायब
गाजीपुर/ कुशीनगर. यूपी पुलिस कॉस्टेबल भर्ती परीक्षा-2018 के तहत 41 हजार से ज्यादा कांस्टेबल पदों के लिए आयोजित की जा रही भर्ती परीक्षा में बड़ी लापरवारी सामने आई है। गाजीपुर निवासी परीक्षार्थी श्वेता कुश्वाहा का कहना है कि पुलिस भर्ती लिखित परीक्षा में 150 प्रश्न पूछे जाने थे। लेकिन परीक्षा के दौरान जो प्रश्नपत्र वितरित किया गया उसमें सिर्फ 62 सवाल ही पूछे गये। बाकी के सवालों को बुकलेट में दो बार दे दिया गया था।
परीक्षार्थी श्वेता कुशवाहा ने बताया कि उनकी परीक्षा 18 जून को कुशीनगर जिले के हनुमान इंटर कालेज रामकोला रोड पडरौना में द्वितीय पाली में थी। अनुक्रमांक नंबर 2451080447 की अभ्यर्थी श्वेता का कहना है कि प्रश्नपत्र सीरीज 39 बुकेलेट क्रमांक- 2263743 उन्हें दी गई। बुकलेट मिलने के बाद उन्होंने देखा की प्रश्पत्र में क्रमांक संख्या 1 से 35 तक के प्रश्न थे। लेकिन प्रश्न क्रमांक 35 से लेकर 123 तक के प्रश्न बुकलेट में नहीं थे। जबकि प्रशन क्रमांक संख्या 1 से 35 तक के प्रश्नपत्र दोबारा पूछे गये थे। वहीं प्रश्नपत्र क्रमांक 124 से लेकर 150 तक के प्रश्न प्रश्नपत्र में पूछे गये थे। इन 27 सवालों को भी दोबारा पूछा गया था। कुल मिलाकर देखा जाय तो शुरू के 1 से 35 और बाद के 124 से 150 मिलाकर 62 सवालों के ही जबाव पूछे गये। जबकि अभ्यर्थी से 150 सवालों के जवाब पूछे जाने थे।
कई बार की कक्ष में शिकायत

अभ्यर्थी की मानें तो प्रश्नपत्र को देखते ही उसने इसे लेकर कक्ष निरीक्षक से सवाल किया। तो उसने प्रधानाचार्य समेत कई अन्य लोगों से मिलकर अपनी समस्या बताने के लिए कहा। परेशना श्वेता कुशवाहा काफी देर तक इधर उधर अपनी बात कहती रही लेकिन परीक्षा केन्द्र पर उसका किसी ने हल नहीं निकाला। श्वेता ने कहा कि मेरा प्रश्नपत्र बदला जाए। लेकिन कक्ष निरीक्षक द्वारा आश्वासन दिया जाता रहा लेकिन प्रश्नपत्र बदला नहीं गया और परीक्षा का समय समाप्त हो गया। परीक्षा संपन्न होने के बाद श्वेता प्रश्नपत्र लेकर कई जानकारों लोगों से बात किया। जिसके बाद हर किसी ने इसपर हैरानी जताई।
जिलाधिकारी के पास पहुंची अभ्यर्थी
अब बुधवार को अभ्यर्थी श्वेता कुशवाहा अपने गृह जनपद गाजीपुर के जिलाधिकारी से पास पहुंची। जिलाधिकारी के उपस्थित न होने पर वह उपजिलाधिकारी से मिलकर मामले की जानकारी दी। लेकिन प्रभारी जिलाधिकारी हरिकेश चौरसिया से ने इस मामले में कुछ न कर पाने की बात कही। उन्होने इस बात की शिकायत यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड से करने की सलाह दी।
जाऊंगी कोर्ट
अब यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड के इस कार्यशैली से नाराज अभ्यर्थी श्वेता कुशवाहा का कहना है कि मैं इस बात कि शिकायत बोर्ड में करूंगी। लेकिन अगर बात न बनी तो मैं इसकी याचिका इलाहाबाद हाईकोर्ट में दाखिल करूंगी।


No comments:

Post a Comment

"Candidate can leave your respective comment in comment box. Candidate can share any Query.
Our Panel will Assist you." - www.MySarkariResult.in