Dear MySarkariResult Users Always Type ".in" after MySarkariResult : - "MySarkariResult.in"

1.2 करोड़ के पैकेज पर गूगल में सिलेक्ट हुआ बेंगलुरु का स्टूडेंट

बेंगलुरु में इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉरमेशन टेक्नोलॉजी (IIIT-B) के एक स्टूडेंट को गूगल में 1.2 करोड. के सालाना पैकेज की नौकरी मिली है. 


अब गूगल के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसर्च विंग में काम करेंगे। गूगल ने उन्हें 1.2 करोड़ रुपये के सालाना वेतन पर नौकरी दी है। आदित्य पालीवाल फिलहाल एमटेक के छात्र हैं। अब वो गूगल के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसर्च विंग के लिए काम करेंगे। आदित्य पालीवाल 16 जुलाई को न्यूयॉर्क स्थित गूगल के ऑफिस में ज्वाइन करेंगे।
आदित्य पालीवाल नाम का ये एमटेक स्टूडेंट अब गूगल के साथ काम करेगा. आदित्य अब न्यूयॉर्क में गूगल के आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस रिसर्च विंग में काम करेंगे. वह अपने काम की शुरुआत 16 जुलाई से करेंगे.
आदित्य ने अपना कन्वोकेशन सर्टिफिकेट रविवार को यहां 18वें कन्वोकेशन समारोह में प्राप्त किया.
आदित्य मुंबई के रहने वाले हैं. आदित्य का नाम उस समय चर्चा में आया, जब गूगल ने अपनी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस रिसर्च विंग में काम करने के लिए एक टेस्ट का आयोजन किया. पूरी दुनिया से इस टेस्ट में 6000 स्टूडेंट ने हिस्सा लिया.
अंतत: 50 लोगों को चयनित किया गया था, जिसमें आदित्य भी शामिल थे। इसके अलावा आदित्य 2017-2018 में आयोजित एसीएम इंटरनेशनल कॉलेजिएट प्रोग्रामिंग प्रतियोगिता (आईसीपीसी) के फाइनलिस्ट में से भी एक थे।
इसमें 50 छात्रों का एक पूल सिलेक्ट हुआ.
टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, आदित्य 2017-18 में हुए एसीएम इंटरनेशनल कॉलेजिएट प्रोग्रामिंग कॉन्टेस्ट (आईसीपीसी) के भी फाइनलिस्ट रह चुके हैं. ये कंप्यूटर लेंग्युएज कोडिंग का बड़ा कॉम्पीटीशन है. इस साल 11 देशों के 50 हजार स्टूडेंट्स ने इसमें हिस्सा लिया. आदित्य का कहना है कि मुझे ये ऑफर मार्च में मिला था. मैं इसी का इंतजार कर रहा था. इस समय मैं काफी खुश हूं. गूगल में मैं अपने कार्यकाल के दौरान ज्यादा से ज्यादा चीजें सीखनें की कोशिश करूंगा.
जब गूगल ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक में रिसर्च के लिए एक टेस्ट का आयोजन किया था। इस टेस्ट में दुनियाभर के 6,000 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था और अंतत: 50 लोगों को चयनित किया गया था, जिसमें आदित्य भी शामिल थे। इसके अलावा आदित्य 2017-2018 में आयोजित एसीएम इंटरनेशनल कॉलेजिएट प्रोग्रामिंग प्रतियोगिता (आईसीपीसी) के फाइनलिस्ट में से भी एक थे। यह कंप्यूटर भाषा कोडिंग के लिए प्रतिष्ठित प्रतियोगिताओं में से एक है। अप्रैल में हुई इस प्रतियोगिता में उनकी टीम में सिमरन दोजानिया और श्याम केबी भी थे। इस साल 111 देशों के 3,098 विश्वविद्यालयों के करीब 50,000 छात्रों ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया था।

 English Translate 
International Institute of Information Technology (IIIT-B) has 1.2 million in Google. Has got a yearly package job. 
Now Google will work in Artificial Intelligence Research Wing. Google has given them a job at a salary of 1.2 crores annually. Aditya Paliwal is currently a student of MTech. Now he will work for Google's Artificial Intelligence Research Wing. Aditya Paliwal will join Google's office in New York on July 16 These MTech students, named Aditya Paliwal, will now work with Google. Aditya will now be working in Google's Artificial Intelligence Research Wing in New York. He will start his work from July 16. Aditya received his Convertence Certificate on Sunday at the 18th Convocation function here. Aditya is a resident of Mumbai. Aditya's name came to the discussion when Google organized a test to work in his Artificial Intelligence Research Wing. 6000 students participated in this test from all over the world. Eventually 50 people were selected, in which Aditya was also involved. Apart from this, Aditya was also one of the finalists of the ACM International Collegiate Programming Competition (ICPC) organized in 2017-2018. In this, a pool of 50 students was selected. According to the Times of India, Aditya has been a finalist of the ACM International Collegiate Programming Contest (ICPC) in 2017-18. This computer is a big competition of language coding. This year 50 thousand students from 11 countries participated in this. Aditya says that I received this offer in March. I was waiting for this. This time I am very happy. At Google, I will try to learn more things during my tenure. When Google organized a test for research in Artificial Intelligence Technology. In this test, 6,000 participants from across the world took part and finally 50 people were selected, including Aditya. Apart from this, Aditya was also one of the finalists of the ACM International Collegiate Programming Competition (ICPC) organized in 2017-2018. This is one of the prestigious competitions for computer language coding. In the competition held in April, he had Simran Dowjania and Shyam Kebbi in his team. About 50,000 students from 3,098 universities from 111 countries participated in this competition this year

No comments:

Post a Comment

"Candidate can leave your respective comment in comment box. Candidate can share any Query.
Our Panel will Assist you." - www.MySarkariResult.in